Here is 85 words per minute Hindi shorthand dictation in mp3 format. You can play it and improve your shorthand speed. Below are given transcription of dictation no. 4 and some important useful phrases. This phrases you can also use in English shorthand dictation.That is very common phrases, Its Maximum use in various phrases.

  1. 400 words hindi dictation
  2. 400 words dictation
  3. 400 words hindi dictation
  4. 400 words hindi dictation – election
  5. 400 words hindi dictation
  6. 400 words hindi dictation
  7. 400 words hindi dictation
  8. 400 words hindi dictation
  9. 400 words hindi dictation
  10. 400 words hindi dictation
  11. hindi dictation for shorthand practice
  12. hindi dictation for shorthand practice
  13. hindi dictation for shorthand practice
  14. hindi dictation for shorthand practice
  15. shorthand dictation
  16. shorthand dictation 320 words
  17. hindi shorthand dictation
  18. hindi dictation
  19. hindi shorthand dictation
  20. hindi shorthand dictation test


Transcription of dictation no. 4

जरा सोचिये देश में जब कभी भी आम या स्थानीय स्वराज (Local governance) के चुनाव होते हैं तब कितने प्रतिशत मतदान होता है ? ४० %, ५० % या फिर कभी कभार ६० % . इससे अधिक मतदान बहुत काम बार होता है। इसके बाद जिस दल की सरकार बनती है उसको मिलने वाले वोटों का प्रतिशत भी २० प्रतिशत से अधिक नहीं होता। यानि कि सरकार उनकी बनती है जिसे मात्र २० प्रतिशत लोगों का समर्थन हासिल हो। यहाँ विडम्बना है। यहाँ विडम्बना इसलिए भी है क्योंकि लोग मतदान ही नहीं करते। चुनाव आयोग (Election Commission) तथा विभिन्न सरकारों द्वारा जागरूकता के लिए प्रचार अभियान चलाये जाने के बावजूद स्थिति जस की तस है। इसलिए एक विकल्प जो ध्यान में आता है वह है मतदान को अनिवार्य करना। दुनिया के कई देशों में ऐसा ही है। और अब गुजरात राज्य यह पहल करने जा रहा है। खबर है कि गुजरात में स्थानीय स्वराज की संस्थाओं जैसे कि महा नगरपालिका, नगरपालिका, और पंचायत चुनाव में मतदान अनिवार्य किया जायेगा और इस सम्बन्ध में एक विधेयक विधान सभा (Assembly) के अगले सत्र में लाया जायेगा। इससे १८ वर्ष के अधिक उम्र के हर नागरिक के लिए मतदान प्रक्रिया में भाग लेना अनिवार्य होगा।
यदि कोई भी उमीदवार या कोई भी दल पसंद न हो तो भी मतदान प्रक्रिया में हिस्सा लेना होगा। इसके लिए मतदाता को कोई योग्य नहीं ऐसा विकल्प मिलेगा। यह विकल्प अभी भी मिलता है। यदि कोई नागरिक मतदान न करे तो उसे एक माह के भीतर कारण बताओ नोटिस का जवाब देना होगा और मतदान न करने के लिए कारणों के लिए आवश्यक सबूत दिखाने होंगे। ऐसी सूरत में मतदाता (Voter) को मिलने वाली सरकारी राहतों (Governmental relief) पर रोक लग सकती है। इस विषय में अभी फैसला होना बाकि है। इससे यह सुनिश्चित हो जायेगा कि चुनी हुई सरकार लोगों के विशाल वर्ग का प्रतिनिधित्व करती है। इससे जनदेश स्पष्ट होगा। इससे पता चलेगा कि कितने प्रतिशत लोग किसी भी दल को सही नही मानते। इससे अयोग्य उम्मीदवारों के लिए जीत हासिल करना बड़ा मुश्किल होगी। वोट देना यह एक नागरिक अधिकार है। ऐसे अनिवार्यता के दायरे में नही लाया जा सकता। वोट देना या न देना लोगों की मर्जी पर निर्भर है। वोट न देने वाले लोगों की पहचान कर उन्हें दण्डित करने की प्रक्रिया भारत जैसे विशाल जनसँख्या वाले देश में मुश्किल होगी। दुनिया के कई देशों में मतदान करना अनिवार्य बनाया गया है। मतदान न करने वाले नागरिक को जुर्माने से लेकर जेल तक की सजा हो सकती है।
400 words
प्रायः प्रयोग होने वाले वाक्यांशों का अभ्यास करना चाहिए और इनकी आउटलाइन अपनी सुविधानुसार छोटी से छोटी होनी चाहिए जिसे आसानी से लिखा जा सके। ऐसे कुछ वाक्यांश निम्न प्रकार हो सकते हैं –
कह देना चाहता हूँ
बतला देना चाहता हूँ
क्या तुम कह सकते हो
तुमने समझ लिया है
तुमने देख लिया है
क्या तुम बता सकते हो ?
कुछ नही हो सकता
यह हो ही कैसे सकता है
हम नहीं कह सकते
सबसे बड़ी बात यह है कि
नहीं हो रहा है
जैसा पहले कहा गया था
मैं तो पहले ही कहता था
समर्थन करते हुए कहा
उपस्थित करते हुए कहा आदि… …